advertisement

भाईयों में चले लाठी-डंडे| एक की मौत| 6 गिरफ्तार| पढ़िये पूरी खबर

Share this news

सिटी लाइव टुडे, मीडिया हाउस-हल्द्वानी

ad12


जेसीबी रास्ते में खड़ी क्या की कि भाईयों में विवाद हो गया और यह विवाद मारपीट में तब्दील हो गया। लाठी-डंडों से वार होने के चलते मझले भाई की मौत हो गयी। बचाव के लिए आए मृतक की पत्नी और दो बेटे भी घायल हो गये। वारदात हल्द्वानी के सैंजना गांव की है। मामले में छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है।
मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, सैंजना में 46 वर्षी नबी हसन पुत्र छोटे पत्नी परवीन, तीन पुत्र फुरकान, इमरान और रिजवान के साथ रहता था। नबी हसन के घर के निकट ही नबी हसन का बड़ा भाई जमाल हसन अपने परिवार पत्नी रमीशा बानो व पांच पुत्र ताजुद्दीन, रियाजुद्दीन, सलमान, साहबुद्दीन व कमालुद्दीन रहता है।
बताया गया कि कि रात करीब 11 बजे नबी हसन का पुत्र फुरकान सब्जी लेने मंडी में जा रहा था। रास्ते में उसके ताऊ जमाल हसन की जेसीबी खड़ी थी। फुरकान ने रास्ते से जेसीबी हटाकर किनारे खड़ी करने के लिए कहा तो विवाद हो गया। कुछ ही देर में लाठियां चलने लगीं, जिसमें नबी हसन, उनकी पत्नी परवीन और पुत्र फुरकान और इमरान बुरी तरह घायल हो गए।
घायलों को उपचार के लिए सीएचसी लाया गया। डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद नबी हसन को हायर सेंटर रेफर कर दिया। परिजन नबी हसन को हायर सेंटर ले जाने के बजाय घर ले आए। देर रात नबी हसन की तबीयत बिगड़ी तो परिजन उसे फिर सीएचसी पहुंचे। डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया।
फुरकान ने चाचा, ताऊ समेत छह के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। कोतवाली पुलिस ने तहरीर पर छह लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। तहरीर में बताया गया कि मंगलवार की रात उसके ताऊ जमाल हसन, उसके पुत्र ताजुद्दीन, सहाबुद्दीन के अलावा ताई रमीशा बानो, चाचा वली अहमद, दामाद तौफीक ने एकराय होकर रास्ता बंद कर दिया। रास्ते से जेसीबी हटाने के लिए कहा तो उसके पिता पर हमला कर दिया। इस हमले में पिता नबी हसन की मौत हो गई।
ग्रामीणों का कहना है कि आरोपी परिवार की जेसीबी अक्सर रास्ते में खड़ी रहती थी, जिससे विवाद होता रहता था। जेसीबी खड़ी होने के कारण संकरी गली में आवाजाही में परेशानी होती थी। इस मामले में पंचायत भी होती थी। इसके बावजूद आरोपी परिवार वहीं पर जेसीबी खड़ी कर देता था, अंततः यह हत्या की वजह बना। ग्रामीणों ने बताया कि जिस गली में आरोपी परिवार जेसीबी खड़ी करता है नबी हसन ने उसके बदले अपनी जगह दे दी थी फिर भी आरोपी परिवार वहीं जेसीबी खड़ी कर देता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.