advertisement

yogi| मां ने बुलाया है, संन्यासी चला आ रहा है| जन्मभूमि यमकेश्वर में योगी| जयमल चंद्रा की रिपोर्ट

Share this news

सिटी लाइव टुडे, जयमल चंद्रा


यूपी चुनाव के बाद मीडिया की सुर्खियां एक खबर बनी थी कि मां ने बुलाया है। इसमें यूपी के सीएम आदित्यनाथ योगी की बहन के हवाले से बताया गया था कि एक बार मां से मिलने आ जायो। । सो, मां ने बुलाया है, संन्यासी चला आ रहा है। योगी अपनी जन्मभूमि यमकेश्वर आ रहे हैं। माना जा रहा है कि इस दौराने वे अपनी मां से भी मिलेंगे। बहरहाल, योगी के प्रस्तावित यमकेश्वर कार्यक्रम को लेकर सरकारी मशीनरी खासी कसरत कर रही है।

architect-ad


इस क्रम में प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने आज यमकेश्वर विकासखण्ड के अंतर्गत महायोगी गुरु गोरखनाथ महाविद्यालय विथ्यानी में उत्तर प्रदेश माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तथा उत्तराखंड मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के प्रस्तावित कार्यक्रम की तैयारियों के संबंध में बैठक ली। उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को समुचित व्यवस्था जल्द पूर्ण करने के निर्देश दिये। इस दौरान उन्होंने कहा कि आयोजित कार्यक्रम में लोगों के लिए बैठने की उचित व्यवस्था करें। उन्होंने महाविद्यालय की छात्राओं से मुलाकात कर पठन-पाठन की जानकारी ली। आयोजित बैठक के बाद मंत्री, उत्तर प्रदेश ल मुख्यमंत्री के पैतृक गांव पंचूर पहुंचे।


यमकेश्वर विधानसभा के अन्तर्गत प्रस्तावित कार्यक्रम की तैयारियों को लेकर मंत्री ने प्रस्तावित कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण कर सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम स्थल में शौचालय, विधुत, पेयजल सहित अन्य व्यवस्थाएं पूर्व में ही पूर्ण करना सुनिश्चित करें। कहा कि लोगों को आने-जाने हेतु अलग-अलग रास्ते बनाये, जिससे आम जनमानस को परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा। इस दौरान उन्होंने कहा कि अतिथियों के लिए भव्य व सुन्दर मंच बनाये।

ad12

मंत्री ने उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री के पैतृक गांव पंचूर पहुंचकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की माता सावित्री देवी से मुलाकात कर उनका हालचाल जाना, साथ ही उन्होंने उनके परिजनों से मुलाकात भी की। इस दौरान जिलाधिकारी गढ़वाल डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे ने अधिशासी अभियन्ता ग्रामीण निर्माण कोटद्वार को निर्देशित किया कि प्रस्तावित कार्यक्रम हेतु पूर्ण व्यवस्थाएं पूर्ण करना सुनिश्चित करें। उन्होंने सम्बन्धित अधिकारी को निर्देशित किया कि महाविद्यालय में जाने वाले मार्ग का सुधारीकरण तथा शौचालय में जाने वाले मार्ग को बेहतर बनाना सुनिश्चित करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.