advertisement

श्री नागदेव गढ़ी| पुण्य की धरा पर श्रीमद् भागवत की ज्ञान सरिता| जयमल चंद्रा की रिपोर्ट

Share this news

सिटी लाइव टुडे, जयमल चंद्रा, द्वारीखाल


असीम आस्था व विश्वास का केंद्र श्री नागदेव गढ़ी में श्रीमद् भागवत की ज्ञान सरिता बहने जा रही है। अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के पुनीत मौके से यहां श्रीमद् भागवत कथा का आयोजन हो रहा है। सारी तैयारियों को अंतिम रूप दे दिया गया है। कथावाचक पंडित मदन मोहन सुयाल भक्तों को श्रीमद् भागवत का अमृतपान करायेंगे।


आयोजन समिति की ओर से जानकारी साझा करते हुये बताया गया है कि सिद्धपीठ नागदेव गढ़ी में 8 मार्च 2022 से 14 मार्च 2022 तक विशाल श्रीमद भागवत महापुराण ज्ञान यज्ञ सप्ताह का आयोजन होने जा रहा है। बह्मालीन श्री 108 स्वामी गंगागिरी जी महाराज की तप स्थली यह सिद्धपीठ नागदेव गढ़ी मंदिर उनकी पुण्य स्मृति में श्रीमद भागवत महापुराण ज्ञानयज्ञ सप्ताह व विशाल भंडारे का आयोजन करने जा रहा है। समस्त भक्तांे व धर्मप्रेमियों को आयोजन समिति ने आमंत्रित किया है।

architect-ad

कथा व्यास पंडित मदन मोहन सुयाल के सानिध्य में श्रीमद भागवत महापुराण ज्ञान यज्ञ का सप्ताह किया जा रहा है। 8 मार्च से प्रतिदिन गणेश पूजन,मूल पाठ, कथा प्रवचन किया जाएगा। 14 मार्च को मंडप पूजन, कथा प्रवचन व पूर्णाहुति का यज्ञ होगा। दोपहर 12 बजे से विशाल भंडारे का आरम्भ होगा। नत्थी सिंह रावत मंदिर पुजारी,प.मथुरा प्रसाद बलूनी,संमस्त क्षेत्र कीर्तन मंडली,श्री नागदेव गढ़ी मंदिर एवम संमस्त भक्तजंनो की उपस्थित सिद्धपीठ नागदेव गढ़ी में रहेगी।

ad12


पौडी गढ़वाल द्वारीखाल ब्लॉक के चैलूसैण से दो किलोमीटर की दूरी पर स्थित प्रसिद्ध सिद्धपीठ नागदेव गढ़ी मंदिर भक्ति व आस्था का केन्द्र स्थल है। यह सिद्धपीठ अलौकिक चमत्कारों के लिए देश-विदेश में विख्यात है। यहां दूर-दूर से लोग अपनी मनोकामना पूर्ण करने के लिए आते है।पूजा-अर्चना व माथा टेकने से भक्तों की मनोकामनाएं पूरी होती है।वैसे तो यहां सालभर श्रद्धालुओं का आगमन होता रहता है।
विशेष अवसरों पर यहां भक्तो का तांता लग जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.