advertisement

प्रवासियों व रैबासियों के मिलन का गवाह बनेगा DUNK| फिर लगेगा मंडांण |शेयर जरूर करें

Share this news

सिटी लाइव टुडे, मीडिया हाउस-कल्जीखाल


धार्मिक व सांस्कृतिक धरोहरों का गांव DUNK एक बार फिर प्रवासियों व रैबारियों का गवाह बनने जा रहा है। एक बार फिर से इस गांव में दिव्य व भव्य मंडांण लगने जा रहा है। फिर डुंक गांव में ईष्ट देवी मां गौरजा का अनुष्ठान होने जा रहा है। अनुष्ठान के लिये जून माह तक किया गया है। हालांकि, अभी तिथि व मुहूर्त नहीं निकाला गया है लेकिन माना जा रहा है कि जून माह के प्रथम पखवाडे़ में अनुष्ठान होगा।
उत्तराखंड के पौड़ी जनपद के कल्जीखाल ब्लाक के अंतर्गत असवालस्यूं पट्टी का डुंक गांव अपनी अलग ही पहचान रखता है। कहते हैं कि गढ़वाल के इतिहास के तार इस गांव से जुडे़ हैं। कहा जाता है तो कुछ खाास भी होगा ही। रडिहाट ऐतिहासिक जगह भी इस गांव के

अधीनस्थ है।

architect-ad


बहरहाल, डुंक गांव में बलि प्रथा का अंत होना इस बात को प्रमाणित करता है कि यह गांव प्रगतिशील है। वक्त अभी ज्यादा नहीं गुजरा जब गांव में बड़े स्तर पर मंडांण का आयोजन होने लगा। खास बात यह कि इस मंडांण का हिस्सा बनने को बड़ी संख्या में प्रवासी गांव पहुंचते हैं।
इस साल भी यह मंडांण आयोजित करने की तैयारी है। मां गौरजा देवी मंदिर समिति के बैनर तले यह आयोजन किया जाता है।

ad12

इस बार समिति के अध्यक्ष की जिम्मेदारी पूर्व प्रधान कुलदीप सिंह रौथाण को दी गयी है। कोषाध्यक्ष पद का दायित्व महेंद्र सिंह रौथाण को सौंपा गया है। सचिव की जिम्मेदारी वर्तमान प्रधान राखी देवी को दी गयी है। उपाध्यक्ष पद की जिम्मेदारी पूर्व प्रधान पुष्कर सिंह बिष्ट को सौंपी गयी है। इसके अलावा नीलिमा देवी, कमला देवी, जगदेश्वरी देवी, साबर सिंह रौथाण, हेमंत सिंह, हेमंती देवी, पार्वती देवी समिति के सदस्य बने हैं। बहरहाल, अनुष्ठान को दिव्य व भव्य तमाम प्रवासियों व रैबासियों से सुझाव मांगे जा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.