advertisement

पौड़ी| टिकट को लेकर BJP पसोपेश में| जगमोहन डांगी की रिपोर्ट

Share this news

सिटी लाइव टुडे, जगमोहन डांगी, पौड़ी


पौड़ी विधानसभा आरक्षित सीट पर टिकट को लेकर भाजपा में भी द्वंद कम नही है। पिछले चुनाव में मौजूदा विधायक मुकेश कोली मोदी लहर में कांग्रेस प्रत्याक्षी नवल किशोर से सात हजार से ज्यादा मतों से जीत गए थे। इस मर्तबा उनका टिकट सुनिश्चित भी नहीं लगता है। नामांकन प्रक्रिया शुरू होने के दो दिन रह गये हैं। भाजपा में टिकट को लेकर मौजूदा विधायक मुकेश कोली और राजकुमार पोरी के दरमियान जो रार मची है वह सतह पर आ चुकी हैं।

architect-ad

माना जा रहा है कि मौजूदा विधायक के क्षेत्र में जगह-जगह विरोध के अलावा संगठन का एक बड़ा धड़ा उनका टिकट का विरोध कर रहा है। वर्तमान विधायक मुकेश कोली सिटिंग गेटिंग फार्मूले के भरोसे हाई कमान के भरोसे टिकट पाने की आस लगाये हुये हैं। जबकि राजकुमार पोरी भी जिस अंदाज में लगातार क्षेत्र में भृमण कर रहे हैं। वह अपने आपको जनता में इस प्रकार प्रस्तुत कर रहे हैं कि जैसे वही भाजपा के अघोषित प्रत्याक्षी हा।े वह निरंतर अपनी सरकार की उपलब्धियों को गांव-गांव तक हर जन-सभाओं में गिनाते रहते हैं।

होडिंग और बैनरों के माध्यम से भी अपनी उपस्थिति दर्ज कराकर पार्टी हाईकमान में प्रबल दावेदारी का संदेश सूचना तंत्र के माध्यम दर्ज करा चुके है। वह इस मर्तबा मौका नहीं गवांना चाहते हैं। वह 2012 से दावेदारी कर रहे हैं। माना जा रहा है कि इस मर्तबा उनके साथ स

ंगठन का एक बड़ा धड़ा पहले से ही मजबूती से खड़ा है और टिकट की पैरवी भी कर रहा है।

ad12

ऐसे में उनका पक्ष भी मजबूत माना जा रहा है। हलांकि दावेदारी के फेहरिस्त में पूर्व प्रत्याक्षी घनानंद, इंजीनियर जगदीश चन्द्रा,पूर्व विधायक बृजमोहन कोटवाल की पत्नी विजय लक्ष्मी कोटवाल, राकेश गौरशाली, सविता देवी भी टिकट के लिए दावेदारी कर रहे हैं। सबकी अपने-अपने स्तर से टिकट के लिए ताकत झोंक रखी है। आने वाले दो दिनों में तस्वीर साफ हो जाएगी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.