advertisement

पौड़ी| कांग्रेस में “माननीय” बनने की चाह पाले हैं दर्जनभर से ज्यादा| जगमोहन डांगी की रिपोर्ट

Share this news


सिटी लाइव टुडे, जगमोहन डांगी, पौड़ी गढ़वाल


पौड़ी (सुरक्षित )सीट पर कांग्रेस की दावेदारों की लंबी फेहरिस्त हैं। लगभग 14 दावेदार टिकट लिए लाइन पर हैं। शायद पौड़ी विस क्षेत्र का अनुसूचित जाति के लिए सुरक्षित होने का यह आखरी टर्म होगा। इसी को देखते हुए अनुसूचित वर्ग के सभी छुटभैये से लेकर प्रभावशाली नेता हर हाल में इस मर्तवा विधानसभा जाने को हसरत पाले हैं। कांग्रेस के नवल किशोर पिछली विधानसभा में भाजपा प्रत्याशी मुकेश कोली से लंबे अंतराल पराजित हो गए थे। इस बार भी नवल किशोर की प्रबल दावेदारी हैं। वह प्रदेशाध्यक्ष एवं हरीश रावत खेमे के माने जाते हैं।

हलांकि यह माना जाता कि वह पौड़ी विधानसभा में विपक्ष की भूमिका में नाकाम रहे और उनकी चुनाव हारने के बाद क्षेत्र में उपस्थिति बहुत कम देखी गयी। साथ चुनाव नजदीक आते ही एक बार फिर पूर्व आईएएस सुंदरलाल मुयाल भी दावेदारी कर रहे शिक्षित एवं पूर्व प्रशाशक रहने का अनुभवी होने पर पूर्व आईएएस मुयाल अपनी दावेदारी मजबूत मान रहे हैं। वहीं एक नाम दावेदारी में जो सबसे ऊपर उठकर वह है। कांग्रेस जिला उपाध्यक्ष विनोद दनोशी का लगातार जनता के बीच सक्रिय होने के साथ साथ संगठन के एक बड़े हिस्से पर उनका प्रभाव देखा जा सकता है।

architect-ad

कोविड दौरान जहां नेता घरों में दुबके थे वही विनोद दनोशी क्षेत्र में अपनी टीम के साथ निरंतर सक्रिय थे। इसके अलावा विनोद दनोशी नेता प्रतिपक्ष के करीबी माने जाते हैं। दूसरा कोविड सक्रमण की वक्त से ही जनता के बीच प्रस्तुत करने में विनोद दनोशी गांव-गांव में जनता के बीच अपनी पैठ बना चुके हंै।

दावेदारी में पूर्व जिला पंचायत सदस्य तामेश्वर आर्य भी प्रबल दावेदारी कर रहे हैं। वह भी निरंतर लंबे समय से दावेदारी कर रहे हैं। कांग्रेस दावेदारों की फेहरिस्त में हरीश रावत की ओएसडी अरुणा कुमार महिला दावेदारी मजबूती से कर रही हैं।

ad12

जगदीश चन्द्रा,रास्ट्रीय कवि युवा नेत्री डॉक्टर ऋतु सिंह युवा चेहरा एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष गौरव सागर,केशवानंद आर्य आदि सभी अपने -अपने स्तर टिकट की जुगत में लगे हैं। देहरादुन -दिल्ली चक्कर लगा रहे है। कोई भी दावेदार इस मर्तबा मौका नहीं गवाना चाहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.