advertisment

फिर नाराज हुये ये कर्मचारी| नहीं मिला प्रोत्साहन भत्ता| पढ़िये पूरी खबर

Share this news

सिटी लाइव टुडे, मीडिया हाउस


चतुर्थ श्रेणी राज्य कर्मचारी संघ चिकित्सा स्वास्थ्य सेवाएँ उत्तराखंड ने कोविड महामारी में चिकित्सा स्वास्थ्य,आयुर्वेद के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों और संविदा, आउटसोर्स, ठेके के सफाई कर्मचारी को आज तक तीन वर्ष बीत जाने के बाद भी प्रोहत्साहन भत्ते की घोषणा होने के बाद भी आज तक प्रदेश के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों और संविदा,ठेके सफाई कर्मचारियों को, आउटसोर्से कर्मचारियों प्रोहत्साहन भत्ता नही दिया गया है जबकि चिकित्सा अधिकारियों के 10,000 के आदेश हो चुके हैं किंतु कर्मचारियों को अभी तक कुछ नहीं मिला है जिससे कर्मचारियों में आक्रोश व्याप्त है। जिसके लिए महानिदेशक, चिकित्सा स्वास्थ्य, सचिव चिकित्सा स्वास्थ्य परिवार कल्याण उत्तराखंड को पत्र भेजकर नाराजगी जाहिर की है।


प्रदेश अध्यक्ष दिनेश लखेडा,प्रदेश प्रवक्ता शिवनारायण सिंह प्रदेश उपाध्यक्ष नेल्सन अरोड़ा प्रदेश ऑडिटर महेश कुमार ने कहा किचिकित्सा,आयुर्वेद के कर्मचारियों ने कोरोना महामारी में लगातार कोविड रोगियों की सेवा की अपनी जान की परवाह न करते हुए उनके सम्पर्क में रहकर उनका पूरा ख्याल रखा सफाई कर्मचारियों और संविदा, आउटसोर्स कर्मियों ने भी कोविड महामारी में पूर्ण सेवा की किन्तु आज तक प्रोहत्साहन के रूप में कुछ नहीं मिला है जो कि न्यायसंगत नही है आचार संहिता के बाद कर्मी आंदोलन को मजबूर होंगे जिसका सम्पूर्ण उत्तरदायित्व शासन, महानिदेशालय का होगा।

advertisment4

ad12


प्रदेश वरिष्ठ उपाध्यक्ष गिरीश पंत प्रदेश संगठन सचिव छत्रपाल सिंह, जिलामंत्री राकेश भँवर ने कहा कि कर्मचारियों की मांगे पदोन्नति, पोष्टिक आहार भत्ता, जोखिम भत्ता की फाइल शासन में लंबित है जो कि न्यायोचित नही है कर्मचारियों के हितों के लिए कुठाराघात है जिसके लिए कर्मचारी आक्रोश में है कर्मचारियों के हितों से खिलवाड़ नही होने दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.