advertisement

सरकारों का ” निकम्मापन ” बयां करता गीत| कोल्ड ड्रिंक-बियर-बार| बीस साल पहले लिखा| पढ़िये पूरी खबर

Share this news

सिटी लाइव टुडे, मीडिया हाउस


उत्तराखंड में सरकारों के निकक्मेपन को जानना हो तो कुछ मत कीजिये. बस गीतकार व कवि हेमवती नंदन भट्ट “हेमू” का बीस साल पहले लिखा गीत सुन लीजियेगा। कोल्ड ड्रिंक-बियर-बार, पहाड़ डांडा वार-पार,। यह गीत नीलम उत्तराखंडी यू-टूब चैनल पर भी उपलब्ध है।

बीस साल पहले ही हेमू भट्ट ने इस गीत के जरिये उत्तराखंड के भविष्य की तस्वीर खींच दी थी। गीत में सरकारों की मंशा को वैसे ही बयां किया गया है, जैसे अब तक उत्तराखंड में हुआ और जो हम आज तक इस राज्य में देख व भोग रहे हैं। गीत में जहां हमारी अपनी सरकारों द्वारा हमें नशावृत्ति मेंझोंकने के लिये तैयार की जा रही तमाम प्रकार की आबकारी नीतियों को लागू किया जा रहा है, गीत में सरकारों की पहाड़ को नशे में झोंकने की नीति पर प्रहार किया गया है तो वहीं उत्तराखंड की वैभवशाली सभ्यता में घुलती पश्चिमी संस्कृति की हवा को भी दर्शाया गया है। उत्तरांचल से उत्तराखंड नाम बदलने को भी इस गीत में बेहद खूबसूरत अंदाज में पेश किया गया है। गीत में हेमू भट्ट ने पहाड़ी ब्यंजनों की जगह फास्ट फूड के बढ़ते चलन पर भी प्रहार किया है।

architect-ad

ad12


इस बाबत बातचीत करने पर गीतकार व गायक हेमवती नंदन भट्ट हेमू ने बताया कि नये राज्य मिलने के बाद जो उम्मीद थी वह पूरी नहीं हो पायी हैं। वजह, यहां नेतानगरी ने सपनों पर पानी फेर दिया है। इसका अंदेशा यहां शुरूआती सरकारों द्वारा बनायी जा रही राज्य की नीतियों से बीस साल पहले ही गीत में जता दिया गया था जो अब सच ही साबित हो रहा है । गीतकार व गायक हेमू भट्ट का यह गीत कवि सम्मेलन के मंचों पर खूब पसंद किया जाता है। हेमू भट्ट अगर मंच पर हैं तो इस गीत की फरमाईश आनी तय है। हेमू भी श्रोताओं को निराश नहीं करते और उम्दा अंदाज में कोल्ड ड्रिंक- बियर-बार गाकर समां बांधते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.