advertisement

जानिये क्यों खतरनाक होते हैं कोविड संक्रमण के शुरूआती पांच दिन| राहुल सिंह की रिपोर्ट

Share this news

सिटी लाइव टुडे, राहुल सिंह


कोरोना से संक्रमित व्यक्ति में पहले 5 दिन का समय सबसे अधिक महत्वपूर्ण होता है, शरीर में कोरोना वायरस के प्रवेश के बाद यह बहुत तेजी के साथ अपनी संख्या बढ़ाना शुरू करता है, जिससे शरीर की प्रतिरक्षक क्षमता कम हो जाती है।
शुरुआत के 5 दिनों में स्टेरॉयड, एंटीबायोटिक का प्रयोग नहीं करें ।


पोस्ट कोविड सिंड्रोम – इन कॉम्प्लिकेशंस को निम्न वर्गों में बांटा गया है, जैसे यदि किसी व्यक्ति में लक्षण 3 से 4 हफ्तों तक रहते हैं तो उन्हें “एक्यूट सिम्पटम्स” कहते हैं और यही लक्षण 12 हफ्तों तक रहते हैं तो उन्हें “सब-एक्यूट या ओंगोइंग सिम्पटम्स” कहते हैं। यदि कोविड के लक्षण 12 हफ्तों से अधिक दिनों तक शरीर में दिखाई देते हैं तो उन्हें “पोस्ट-कोविड सिंड्रोम” कहा जाता है

architect-ad

ad12


पोस्ट-कोविड कोविड- 19 से शरीर के अंगों पर पड़ने वाले प्रभाव

  1. फेफड़ों में अकड़न होना, जिससे सांस लेने और रक्त-प्रवाह में कठिनाई होती है,
  2. हृदय की धड़कनों का अनियमित होना (कार्डियक एरिथमिया)
  3. हृदय की स्तरध् परत में सूजन (पेरिकार्डियाइटिस )
  4. यकृत में सूजन (हेपेटाइटिस एंड अबनॉर्मल लिवर एंजाइम)
  5. रिनल इंपेयरमेंट (गुर्दों का खराब होना)।

Leave a Reply

Your email address will not be published.