tanejav1

दे दी हमें आजादी, बिना खड़ग, बिना ढाल, सावरमती के संत तूने कर दिया कमाल | विकास श्रीवास्तव की रिपोर्ट

adhirajv2

Share this news

सिटी लाइव टुडे, विकास श्रीवास्तव


जनपद हरिद्वार में विभिन्न संगठनों ने गांधी जयंती मनाकर बापू को याद किया। इस क्रम में डीएवी हरिद्वार विद्यालय के एनएसएस यूनिट के विद्यार्थियों, शिक्षकों एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारियों ने गाँधी जयन्ती बड़े हर्षोल्लास से मनाई। कार्यक्रम का आरम्भ ध्वजारोहण एवं राष्ट्रगान से हुआ। उसके बाद विद्यार्थियों एवं शिक्षकों ने शिक्षा विभाग के निर्देशानुसार मतदाता शपथ ली। उसके बाद विद्यालय के सभागार में प्रार्थना सभा का आयोजन किया गया। सर्वप्रथम महात्मा गांधी एवं श्री लाल बहादुर शास्त्री जी के चित्रों पर माल्यार्पण किया गया। विद्यालय के संगीत शिक्षकों श्रीमती अर्चना तलेगाँवकर एवं श्री हिमांशु गुप्ता ने सुन्दर भजन प्रस्तुत कर सभा को सम्मोहित कर दिया। डाॅ0 अनीता स्नातिका ने गांधी जी के जीवन पर प्रकाश डाला एवं गांधी जी के सिद्धान्तों को अपने जीवन में ढालने के लिए विद्यार्थियों को प्रेरित किया।

advertisment


वरुण शर्मा ने महात्मा गांधी के जीवन पर एक डॉक्यूमेंट्री फिल्म प्रस्तुत कर उपस्थित जनों को उनके जीवन से परिचित करवाया। तत्पश्चात् विद्यालय के कार्यवाहक प्रधानाचार्य मनोज कुमार कपिल ने गांधी जी के चरखा चलाने और केवल एक वस्त्र धारण करने के कारण के बारे में सभी को परिचित करवाया। गांधी जी के वचन बुरा मत देखो, बुरा मत सुनो, बुरा मत बोलो को उन्होंने आज के परिप्रेक्ष्य में इस प्रकार बताया- सोशल मीडिया पर बुरा मत अपलोड करो, बुरा मत लाइक करो, बुरा मत शेयर करो। इसके पश्चात विद्यालय प्रांगण को स्वच्छ बनाने में सभी ने श्रमदान किया। विद्यालय के आस-पास वृक्षारोपण कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। मंच संचालन श्रीमती हनी पटपटिया एवं रजत दुसेजा ने किया।
विद्यालय कार्यक्रम सम्पन्न होने के उपरान्त सभी शिक्षकगण मातृआंचल कन्या विद्यापीठ गए। वहां पर उन्होंने बालिकाओं के दैनिक जीवन के बारे में जानकारी प्राप्त की तथा उनकी आवश्यकताओं के बारे में भी जाना।

ads

MANOJ KUMAR KAPIL ने अध्यापकों से अपेक्षा की इन बालिकाओं को बौद्धिक रूप से गोद लिया जाए। ज्ञान अर्जित करने की आवश्यकता सभी की है, अतः जब भी कोई अध्यापकध्अध्यापिका अपना कुछ समय इन बालिकाओं को दे सकें तथा उन्हें शिक्षित करने अपना योगदान करें तो उनका जीवन भी संवर जाएगा। अंत में श्री कपिल ने इस कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु सभी का धन्यवाद दिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *