advertisment

तीलू रौतेली पुरस्कार | अपनों को बांटी रेबड़ियां |विपक्ष को दिया मुद्दा | पढ़िये पूरी खबर

Share this news

सिटी लाइव टुडे, मीडिया हाउस
तीलू रौतेली पुरस्कार में नामों का चयन अपनों को बांट दी रेबडियां की तर्ज पर हुआ है। पुरस्कारों के लिये चयनित व घोषित नामों की सूची में दो नाम ऐसे है जो इस पुरस्कार के चयन में झोल की ओर इशारा कर रहे हैं। इन नामों में राज्य के कैबिनेट मंत्री बिशन सिंह चुफाल की बेटी दीपिका चुफाल और भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश उपाध्यक्ष अनुराधा बलिया के नामों का सम्मिलित होना है। विधानसभा अध्यक्ष के ओएसडी की पत्नी का नाम भी इसमें शामिल है। ओएसडी की पत्नी डिग्री कालेज में प्राध्यापक है।

ऐसे में चयन समिति पर उंगली उठना बाजिब है कि वीरबाला तीलू रौतेली पुरस्कार राजनैतिक क्षेत्र से जुड़े लोगों को नहीं दिया जाता है। जबकि सूची में शामिल दोनों महिलाएं राजनीति क्षेत्र से हैं। हालांकि सामाजिक क्षेत्र में कार्य करने के बाद ही राजनीति क्षेत्र में एंट्री होती है। लेकिन इस पुरस्कार के लिए राजनीतिक से जुड़े लोगों को बाहर रखा गया है।

advertisment4

ad12

वीरबाला तीलू रौतेली पुरस्कार सामाजिक कार्य , साहित्य, शिक्षा, खेल एवं साहस के क्षेत्र उत्कृष्ट कार्य करने वाली महिलाओं को दिया जाता है। लेकिन सत्तारूढ़ पार्टी से संबंधित राजनीतिक क्षेत्र की महिलाओं के नाम इस पुरस्कार में शामिल होना, विधानसभा चुनाव के नजदीक विपक्षीओं कोई नया मुद्दा थाली परोस कर दिए जाने जैसा है। अब देखना यह होगा कि विपक्षी दल पुरस्कार में चयनित इन नामों को लेकर किस तरह सरकार को घेरते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.