advertisement

नशे पर खाकी की चोट| 70 नाली भांग की खेेती ” स्वाहा “| लक्ष्मण सिंह नेगी की रिपोर्ट

Share this news

सिटी लाइव टुडे, लक्ष्मण सिंह नेगी, चमोेली


उरगम घाटी जोशीमठ चमोली उत्तराखंड पुलिस के द्वारा मुख्यमंत्री उत्तराखंड के आदेश अनुसार नशा मुक्ति अभियान के तहत चमोली पुलिस के द्वारा एक बड़ी कार्यवाही की गयी हैं लगातार स्कूलों समुदाय में जाकर के पुलिस दल के द्वारा नशा मुक्ति अभियान चलाए जा रहे उनके द्वारा जोशीमठ के उरगम घाटी में भी भांग की खेती नष्ट करने की कार्यवाही की जा रही है। शनिवार को एक टीम गठित कर पुलिस अधीक्षक चमोली श्वेता चौबे के आदेश अनुसार घाटी में भांग की खेती 70 नाली में पुलिस दल के द्वारा नष्ट किया गया। इस अभियान में तहसील जोशीमठ के कर्मचारी एवं होमगार्ड के कर्मचारी शामिल थे।


उन्होंने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि उन्हें जानकारी मिल रही थी अवैध रूप से भांग की खेती की जा रही है जिसके लिए पुलिस अधीक्षक एक बड़ा अभियान संचालित किया है। लगातार नशे के कारोबार करने के खिलाफ जिला प्रशासन द्वारा लगातार कार्यवाही की जा रही है । 6 माह के अंतर्गत शराब के अवैध कारोबारी के स्नेक और भांग के व्यापार करने वालों के खिलाफ कड़ी नजर रखी जा रही है।

architect-ad

कई अपराधियों को जेल भेज दिया है अधिक संख्या में चरस तस्कर अन्य स्थानों से चरस लेकर के अंतरराष्ट्रीय मार्केट में पहुंचाते हैं किंतु वे अपनी पहचान छिपाने के लिए उरगम घाटी का चरस कह कर घाटी को बदनाम कर रहे हैं जबकि हो कारोबार उत्तराखंड के अधिकांश जिलों से होता रहा है कई बार तो नेपाल के रास्ते भी भारत में चरस गांजा स्नौक का व्यापार रहा है घाटी के जनप्रतिनिधियों में खासा आक्रोश देखा गया है कि सरकार को पंच केदार की महत्वपूर्ण सड़क कल्पेश्वर की सड़क की दुर्दशा तो दिखती नहीं है देश विदेश के हजारों यात्री वापस जा रहे हैं किंतु चरस के नाम पर घाटी को बदनाम किया जा रहा है जिला पुलिस चमोली के द्वारा दी गई फेसबुक पोस्ट में कई पाठकों ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है फैसबुक पाठक ने लिखा है कि अटल उत्कृष्ट इंटर कॉलेज उरगम मैं प्रवक्ता के 6 पद खाली हैं उनको भरने की कार्यवाही सरकार के द्वारा नहीं की जा रही है उल्टा घाटी को बदनाम किया जा रहा है

क्षेत्र प्रमुख जोशीमठ हरीश परमार लिखते हैं कि हो सकता है कि चरस के नाम पर घाटी को बदनाम करने का प्रयास चल रहा है पंच केदार की सड़क अत्यधिक खराब होने के बाद भी उस सड़क को ठीक करने के लिए यदि प्रशासन इसी तरह से जल्दी दिखाता तो सड़क की हालत बदल जाती जिस तरह से चरस के लिए पूरा प्रशासन कार्रवाई कर रहे हैं अच्छी बात है हम उसका समर्थन नही करते हैं किंतु विकास के लिए भी जोर से कार्य करने की आवश्यकता है उन्होंने कहा सरकार रोजगार दे नहीं सकती हैं युवा नशे की गर्त में ही जाएगे लगातार राज्य सरकार के द्वारा नौकरी के नाम पर लाखों रुपए की ठगी किया जा रहा है और बेरोजगार लोगों की बुरी हालत है जिससे कि छोटे से लालच के लिए युवा चरस गांजा जैसे व्यसनों में या व्यापार में संलिप्त हो रहे हैं युवाओं को रोजगार की आवश्यकता है और वह सरकार को करना चाहिए।

स्वतंत्र लेखक एवं पत्रकार रघुवीर सिंह नेगी लिखते हैं कि पंच केदार की सड़क का हालत बहुत खराब है चरस के खिलाफ जिस तरह कार्यवाही हो रही है उसी तरह से विकास के लिए भी सरकार को जोर देना चाहिए कुछ जनप्रतिनिधियों का कहना है कि गांव में पुलिस फोर्स पहुंचती है परंतु जनप्रतिनिधियों को सूचना नहीं दी जाती जो अच्छी बात नहीं है घाटी के खवाला, सलना,उरगम, देवग्राम गांव में चरस की खेती नष्ट करने की बात पुलिस चमोली के द्वारा कही गई है।

ad12

पुलिस उपाध्यक्ष चमोली सुश्री नताशा सिंह विजय भारती प्रभारी निरीक्षक जोशीमठ उप निरीक्षक विनोद सिंह कोतवाली जोशीमठ उप निरीक्षक नवीन भंडारी एसओजी प्रभारी राजस्व निरीक्षक विजय सिंह डूंगरिया आरक्षी चंदन नगरकोटी आरक्षी मनमोहन सिंह भंडारी एसओजी पुलिसकर्मी होमगार्ड जवान सहितटीम के द्वारा भांग की खेती नष्ट की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.