advertisement

नरेंद्र नगर सीट पर नाराजगी के स्वर मुखर| भगवान सिंह रावत की रिपोर्ट

Share this news

सिटी लाइव टुडे, भगवान सिंह रावत, ऋषिकेश


टिकट बंटवारे के साथ ही नरेंद्रनगर सीट पर नाराजगी के स्वर भी मुखर होने की खबरे आने लगी हैं। बताया जा रहा है कि टिकट नहीं मिलने से ओम गोपाल खासे नाराज हैं। उनका एक कथित वीडियो भी सोसल मीडिया में वायरल होेने लगा है। नाराजगी के साथ ही बगावत की आहट भी बतायी जा रही है। हालांकि अभी स्पष्टतौर पर कुछ कहा नहीं जा सकता है लेकिन नरेंद्रनगर सीट पर सियासी खींचतान जरूर तेज हो गयी है। अब देखना यह है कि भगवा का डैमेज कंट्रोल क्या करता है और कांग्रेस कौन सा दांव खेलेगी।


नरेंद्र नगर विधानसभा सीट राज्य की हॉट-स्पॉट सीट मानी जाती है। अभी तक तीन बार विधायक रह चुके सुबोध उनियाल भारतीय जनता पार्टी से अपना टिकट फाइनल कराने में कामयाब रहे हैं। ओम गोपाल रावत टिकट न मिलने से अब खफा हो गये हैं। चर्चा तो यह भी है कि उन्होंने कांग्रेस में जाने की बात तक कह दी है। हालांकि यह चर्चा है। यदि चर्चा पर यकीन कर लें तो अब कांग्रेस के लिए भी इस सीट पर वही हालात पैदा हो गए हैं कि यदि ओम गोपाल को पार्टी स्वीकार कर उन्हें इस सीट पर दावेदार बनाती है तो पिछले 10 वर्षों से लगातार सक्रिय रहे हिमांशु बिजलवान क्या इसको स्वीकार कर पाएंगे अब देखना यह दिलचस्प होगा कि कांग्रेस क्या स्टेंड लेती हैं।

architect-ad

ad12


उत्तराखंड क्रांति दल द्वारा नरेंद्र नगर विधानसभा के लिए सरदार सिंह पुंडीर का नाम फाइनल कर दिया गया है उनका भी एक क्षेत्र विशेष में अपना जनाधार है और ओम गोपाल रावत उत्तराखंड आंदोलनकारी होने और राज्य निर्माण के लिए कई बार जेल जाने को अपनी उपलब्धि बताते हैं तो वही क्षेत्र में विकास कार्यों की वजह से जनता में अलग छवि रखने वाले वर्तमान विधायक एवं कृषि मंत्री सुबोध उनियाल अपने द्वारा किए गए काम के दम पर जीत हासिल करने का दम भरते हैं वही हिमांशु बिजलवान एंटी इनकंबेंसी फैक्टर का हवाला देकर भारतीय जनता पार्टी को टक्कर देने के लिए मैदान में डटकर सक्रिय रहे हैं अब गेंद पूर्ण रूप से कांग्रेस के पाले में है।
बहुत कुछ भगवा के डैमेज कंट्रोल पर भी निर्भर करेगा। अक्सर टिकट नहीं मिलने से नाराजगी तो हो ही जाती है जो ठंडी भी पड़ जाती है। ये तो सियासत में होता ही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.