advertisement

नहीं हुयी जोर-आजमाईश| धरती में “समायी गेंद” | लालढांग से अनिल शर्मा की रिपोर्ट

Share this news

सिटी लाइव टुडे, लालढांग, अनिल शर्मा


़लालढांग में ऐतिहासिक सांस्कृतिक एवं धार्मिक गेंद मेला सांकेतिक रूप से मनाया गया। गेंद को लेकर दो पक्षों के बीच जोर-आजमाईश नहीं हुयी। सौहार्दपूर्ण माहौल में गेंद को धरती पर दबाया गया। ऐसा कोविड संक्रमण के चलते किया गया। सूक्ष्म आयोजन में कोविड नियमों का ईमानदारी के साथ पालन किया गया।

मकर संक्र्रांति के पावन अवसर पर लालढांग में भी गेंद मेले का आयोजन होता है। लेकिन कोविड के चलते लगातार दूसरे साल भी सांकेतिक रूप से ही आयोजन किया गया। विधि-विधान से पूजा अर्चना हुयी और लालढांग स्थित शिव मंदिर से निशांण माता काली मंदिर तक लाया गया। यहां माता काली का पूजन करने के बाद मैदान मंे गेंद को दबाया गया। इस मौके पर खिचडी का भोग भी लगाया गया। इस मौके पर मेला समिति अध्यक्ष सूर्य प्रताप सिंह रावत, राकेश नेगी, भगवतं द्विवेदी, यशपाल रावत, शिवम उपाध्याय, कमलेश द्विवेदी, प्रियांशु रावत, देव प्रसाद जखमोला आदि मौजूद रहे।

ad12

architect-ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.