advertisement

जय श्रीराम। समंदर मा अब सेतु बंधे गे| मि आंणू छौ| पढ़िये पूरी खबर

Share this news

सिटी लाइव टुडे, मीडिया

जनपद पौड़ी के पाबौ बाजार के उभरते गायक राजेश कुमार भक्ति संगीत में भी खासी रूचि रखते हैं। भजन गायन में उनकी गायिकी बेहद उम्दा है। समंदर मा अब सेतु बंधे ग्ये, जाकर उन्होंने भजन गाकर भक्ति रस की ज्ञान सरिता बहायी है। यह भजन बेहद उम्दा शब्दावली और गायन से लबरेज है।

https://youtu.be/wOVf3NJpcMk

पाबौ बाजार के कंडारस्यूं पट्टी के राजबाटा गांव निवासी राजेश कुमार गायन व लेखन के धनी हैं। समंदर मा अब सेतु बंधे गे भजन गाकर उन्होंने अपने गायन के फन का लौहा मनवाया है। प्रेम के गीतों पर खासी पकड़ रखने वाले राजेश का भजन गायन का पक्ष भी बेहद ही उम्दा है।

architect-ad


समंदर मा अब सेतु बंधे ग्ये भजन में उन्होंने बजरंग बली हनुमान की महिमा का भी खूब बखान किया है। भजन जितना संुदर है उतना ही सुंदर संगीत पक्ष भी है। लक्ष्मण पर शक्ति लगने पर मूर्छित होने का मार्मिक चित्रण इस भजन में किया गया है। संजीवनी बूटी लाने का चित्रण बेहद अंदाज में किया गया है।

ad12


लंका दहन, मेघनाद वध, कुंभकर्ण वध और रावण वध का वर्णन इस भजन में किया गया है। जय-जय राम, जयश्रीराम। श्रीराम के अयोध्या वापसी लौटने का भावपूर्ण वर्णन इस भजन मंे किया गया है। यह भजन यू-ट्यूब https://youtu.be/wOVf3NJpcMk पर उपलब्ध है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.