advertisement

यमकेश्वर| भाजपा की “सियासी पिच ” पर रावत की फील्डिंग| जयमल चंद्रा की रिपोर्ट

Share this news

सिटी लाइव टुडे, यमकेश्वर .जयमल चंद्रा


चुनावी मौसम में नेतागिरी व नेतावाणी खूब हो रही है। वायदों की बरसात अभी से होने लगी है। संभावित दावेदार इन-हाउस अभी से तैयारियों में जुट गये हैं। यमकेश्वर विधानसभा सीट का हाल भी ऐसा ही है। सियासी पिच पर शाह-मात के दांवपेंच और गणित बिठाने की तैयारियों ने सर्द मौसम में खासी गरमाहट कर दी है। बिना लाग-लपेट के कहें तो यमकेश्वर विधानसभा सीट पर भाजपा की सियासी पिच पर शैलेंद्र रावत फील्डिंग सजाये बैठे हैं। यह बात अलग है कि भाजपा व कांग्रेस किस-किस पर दांव खेलती है यहे तो समय ही बतायेगा।


दुगड्डा, द्वारीखाल व यमकेश्वर विकासखंडों के दायरे को कवर करती यमकेश्वर विधानसभा की सियासी तस्वीर क्या होगी, कौन-कौन सियासी मैदान मंे उतरेंगे और कौन मैदान मारेगा, इसको लेकर सियासी पंडित सियासी फलादेश निकालने लगे हैं। पिछले विधानसभा चुनाव में ऋतु खंडूरी यमकेश्वर विधानसभा सीट से विधायक चुनीं हैं। उन्होेंने कांग्रेस प्रत्याशी शैलेंद्र सिंह रावत को पराजित किया था।

architect-ad


अब आने वाले चुनाव को राजनीतिक दल किस-किसको टिकट देते हैं यह जानने को तो इंतजार करना होगा। इतना जरूर है कि यमकेश्वर विधानसभा सीट पर भाजपा व कांग्रेस दोनों दलों ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। हाल के दिनों में विधायक ऋतु खंडूरी ने उनके कार्यकाल में यमकेश्वर में हुये विकास कार्यों की किताब का विमोचन भी किया। वहीं अभी कुछ ही दिनों पहले पूर्व सीएम हरीश रावत व कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने यमकेश्वर विस में दस्तक देकर हुंकार भरी है।

ad12

इस सबके बीच एक चेहरा ऐसा है जिसकी लगातार क्षेत्र में सक्रियता बनी हुयी है। वह चेहरा है शैलेंद्र रावत। पिछले चुनाव में शिकस्त खाने के बाद वे क्षेत्र में लगातार सक्रिय हैं। दूसरे शब्दों मंे कहा जाये तो शैलेंद्र रावत लंबे समय से फील्डिंग सजाये हुये हैं। लगातार उनकी इस सक्रियता को मजबूत दावेदारी के रूप में आंका जा रहा है। यूं कहियेगा कि भाजपा की सियासी पिच पर शैलेंद्र रावत फील्डिंग सजाये हुये हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.