advertisment

आदित्य सैनी को मिलेगी डॉक्ट्रेट की मानद उपाधि| विकास श्रीवास्तव की रिपोर्ट

Share this news

CITY LIVE TODAY. HARIDWAR

थियोफेनी यूनिवर्सिटी , हैती ने हरिओम सरस्वती महाविद्यालय धनौरी के प्रबंधक आदित्य सैनी को उनकी शिक्षा के क्षेत्र में सामाजिक उपलब्धियों के मद्देनजर वर्ष 2021 की ऑनरेरी डॉक्ट्रेट डिग्री देने की घोषणा की हैं।
थियोफेनी यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार इरावूलुवा अकिंतुंडे ने जारी अधिकृत पत्र में बताया है कि यह डिग्री 12 सितंबर को इंडियन हैरिटेज सैंटर , नईदिल्ली में आयोजित दीक्षांत समारोह में प्रदान की जायेगी। आदित्य सैनी के ऑनरेरी डॉक्ट्रेट डिग्री हेतु चयनित होने पर शिक्षा क्षेत्र से जुडे व सामाजिक वयक्तियों मे हर्ष की लहर हैं।


विदित हो कि ऑनरेरी डॉक्ट्रेट डिग्री किसी भी शख्स को उसके उत्कृष्ट काम या समाज में बेहतरीन योगदान देने के लिए सम्मानित यूनिवर्सिटी द्रारा (मानद उपाधि) दी जाती है। यह एक तरह से अकादमिक सम्मान ही है। मानद उपाधि देने की शुरुआत पंद्रहवीं शताब्दी में ऑक्सफोर्ड यूनवर्सिटी से हुई थी।

advertisment4


आदित्य सैनी के पिता दिवंगत डॉ. तेजवीर सैनी भी घाड क्षेत्र में शिक्षा क्षेत्र के पुरोधा माने जाते है, उन्ही के नक्शेकदम पर आदित्य भी शिक्षा की अलख जगा रहे हैं। आदित्य के निर्देशन में हरिओम सरस्वती इंटर कॉलेज, राजा बाबू इंटर कॉलेज, हरिओम सरस्वती डिग्री कॉलेज आदि संस्थाए आज क्षेत्र में नामचीन संस्था के रूप में वट वृक्ष बनकर शिक्षा की पताका फहरा रही हैं।
आदित्य सैनी अपने विद्यालयों का प्रबंध अपने ग्रामीण बच्चों को केंद्र में रखकर करते है। उत्कृष्ट प्रबंधन और संयोजन के कारण आज इनकी संस्थाओं द्वारा स्थापित विद्यालय आस-पास के विद्यालयों में प्रेरणा के स्त्रोत है । जिस तरह की शिक्षा व्यवस्था आपने अपने प्रयास से स्थापित की है, वह आस-पास के विद्यालय भी देखकर सीखते हैं।

ad12


12 सितंबर को आदित्य सैनी को मिलने जा रही आनरेरी डॉक्ट्रेट डिग्री के लिये संजय वत्स, डॉ हर्ष सैनी, रामकुमार शर्मा, शेषराज सैनी, डॉ सुशील उपाध्याय, डॉ विकास सैनी, जयभगवान सैनी, अंकित कुमार, योगेश कुमार, आदि ने बधाई दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.