tanejav1

बलिहारी गुरू आपने गोविंद दियो बताये | गुरू की महिमा का बखान | विकास श्रीवास्तव की रिपोर्ट

adhirajv2

Share this news

सिटी लाइव टुडे, विकास श्रीवास्तव


शिक्षक दिवस के उपलक्ष्य में डीएवी सेंटेनरी पब्लिक स्कूल जगजीतपुर, लक्सर में आयोजित कार्यक्रम में गुरू की गरिमा व महिमा का बखान किया गया। खास बात यह कि शिक्षक दिवस को शिक्षकों ने बच्चों की गैर-हाजिरी में मनाया।

advertisment

प्रातःकाल कार्यक्रम की शुरूआत उस निर्विकार प्रभु की आराधना यज्ञ की पवित्र आहूतियों द्वारा की गई। तत्पश्चात् अध्यापकों ने पहली बार बच्चों की अनुपस्थिति में यह दिवस मनाया। विद्यालय के कार्यवाहक प्रधानाचार्य मनोज कुमार कपिल, पर्यवेक्षिका श्रीमती कुसुम बाला त्यागी एवं सुश्री हेमलता पाण्डेय ने दीप प्रज्ज्वलित कर सर्वपल्ली डॉ0 राधाकृष्णन को श्रद्धासुमन अर्पित किए। सभी अध्यापकों ने अपनी-अपनी कला का अद्भुत प्रदर्शन किया। कक्षा 1 एवं 2 की अध्यापिकाओं द्वारा एक सुन्दर गीत प्रस्तुत किया गया।

कक्षा नर्सरी की अध्यापिकाओं श्रीमती रश्मि सेठ एवं श्रीमती कोमल चैधरी ने नृत्य प्रस्तुतियां दी। श्रीमती डॉली मेहरोत्रा एवं नृत्य अध्यापिका सुश्री दीपमाला शर्मा ने युगल नृत्य प्रस्तुत कर अपने साथियों की खूब तालियां बटोरी। श्रीमती चेतना शिशु द्वारा एक कश्मीरी गीत प्रस्तुत किया गया। कुमारी नम्रता सैनी जो पहले इस विद्यालय की विद्यार्थी रहीं अब शिक्षक के पद पर सुशोभित हैं, ने अपने विद्यार्थी जीवन से शिक्षक तक के अनुभव साझा किए। श्रीमती अलका जोशी द्वारा एक सुन्दर कविता प्रस्तुत की गई।

माध्यमिक कक्षाओं की अध्यापिकाओं ने कुछ खेलों का आयोजन भी किया जिसका सभी ने आनन्द उठाया। अंत में सभी शिक्षक-शिक्षिकाओं ने अपने-अपने प्रदेश की वेश-भूषा धारण कर मंच को सुशोभित किया। अपने विद्यार्थी जीवन को फिर से जीने का अनुभव उन्होने खूब उठाया। मंच संचालन डॉ0 मंजीत कौर ने किया।

ads

कार्यवाहक प्रधानाचार्य श्री मनोज कुमार कपिल ने अपने शिक्षक जीवन के कई अनुभव साझा किए। उन्होनें कहा कि हमें वैश्विक महामारी के इस समय में यह दिवस विद्यार्थियों की अनुपस्थिति में मनाना पड़ा। बच्चे ही विद्यालय प्रांगण की शोभा हैं। बच्चों के साथ शिक्षक दिवस वर्चुअली मनाया गया। किन्तु विद्यालय प्रांगण में बच्चों की कमी सभी अध्यापकों ने अनुभव की क्योंकि विद्यार्थी हैं तो शिक्षक हैं।
अंत में उन्होनें सभी उपस्थित जनों का कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए धन्यवाद दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *