advertisment

एम्स ऋषिकेश में गुरु पूर्णिमा पर गुरुओं को किया सम्मानित|पढ़िये पूरी खबर

Share this news

सिटी लाइव टुडे, मीडिय हाउस, नेहा सक्सैना

स्वास्थ्य सेवा से राष्ट्रीय सेवा के लिए समर्पित अखिल भारतीय अनुषांगिक संगठन, नेशनल मेडिकोज ऑर्गेनाइजेशन (एनएमओ) की ओर से शनिवार को गुरु पू​र्णिमा पर्व पर एम्स ऋषिकेश में कार्यक्रम आयोजित किया गया। बताया गया कि कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य हमारी सनातन पद्धति में चली आ रही गुरु- शिष्य परंपरा का जीवंत रखना व साथ ही हम किस तरह से अपने गुरुओं से दक्षता हासिल कर आगे बढ़ाना व जीवन में गुरुओं द्वारा दिए गए आशीर्वाद को अपनी आने वाली पीढ़ी तक कैसे पहुंचाएं, इसका संदेश दिया गया।


शनिवार को संस्थान में आयोजित कार्यक्रम में एनएमओ, उत्तराखंड के प्रदेश संरक्षक व निदेशक एम्स प्रोफेसर रवि कांत जी द्वारा संगठन में कार्य कर रहे छात्र-छात्राओं को गुरु पूर्णिमा पर्व पर आशीर्वाद दिया गया। इस दौरान निदेशक एम्स ने उन्हें जीवन में उन्नति व उच्च लक्ष्य प्राप्ति का संदेश दिया। एनएमओ, उत्तराखंड के प्रदेश सचिव डॉ. विनोद ने बताया कि हर वर्ष संगठन द्वारा प्रदेश के विभिन्न मेडिकल कॉलेजों में गुरु पूर्णिमा पर्व पर कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है, जिसमें संगठन में कार्य कर रहे गुरुओं को विद्यार्थियों द्वारा सम्मानित किया जाता है। उन्होंने बताया कि नेशनल मेडिकोज आर्गेनाइजेशन NMO द्वारा आयोजित कार्यक्रम में सभी सम्मानित गुरुओं को अंगवस्त्र ओढ़ाकर तथा तुलसी व अन्य पौधे भेंटकर सम्मानित किया गया।

advertisment4


इस अवसर पर एनएमओ, एम्स ऋषिकेश शाखा की अध्यक्ष डॉ. मीनाक्षी धर ने विद्यार्थियों को गुरु पर्व की बधाई दी व इस अवसर पर गुरुजनों के लिए सम्मान कार्यक्रम आयोजित करने के लिए उनकी प्रशंसा की। गुरु पर्व पर आयोजित कार्यक्रम में एम्स, ऋषिकेश के संकायाध्यक्ष प्रोफेसर मनोज गुप्ता, सीमा डेंटल कॉलेज के प्रिंसिपल प्रो. हिमांशु ऐरन,संस्थान के मेडिकल सुपरिटेंडेंट प्रो. विनय कुमार बस्तिया, डॉ. नवनीत मग्गो, डॉ. पंकज शर्मा, डॉ. अनुभा अग्रवाल ,डॉ. पूजा भदौरिया समेत अन्य चिकित्सकों को सम्मानित किया गया।
इस अवसर पर एनएमओ, एम्स ऋषिकेश शाखा की आयोजन समिति के सदस्य डॉ. रविराज, डॉक्टर अजय पाल, कमलदीप, कौशल, प्रतीक, प्रकाश, संकेत, दिव्यांश,नवीन, मोहित, अभिषेक, करण, प्रशांत, अनिकेत, तेजप्रकाश ,सुनील, विकास, पीयूष, सिद्धांत,रिफदु आदि मौजूद थे।

ad12

Leave a Reply

Your email address will not be published.