advertisement

दीवार टूटने से महिला की मौत| मकान, वाहन व दुकान हुये पानी-पानी| जयमल चंद्रा की रिपोर्ट

Share this news

सिटी लाइव टुडे, जयमल चंद्रा


उत्तराखंड में बारिश ने कहर बरसाना शुरू कर दिया है। जनपद पौड़ी के यमकेश्वर क्षेत्र में मकान की दीवार गिरने से एक महिला की मौत की खबर है। बताया जा रहा है कि सड़क के नीचे बने मकान में ऊपर से दीवार गिरने पर महिला की मौत हो गयी है। वहीं कई जगह गौशाला आदि में मवेशियों की हताहत होने की भी खबर आ रही है।


तालघाटी में तालनदी उफान पर है। ग्राम दिवोगी के कण्डरह गॉव आपदा की जद में हैं, बताया जा रहा है कि धनवीर सिंह रावत की दुकान और गौशाला बह गयी हैं, एवं मकान भी खतरे की जद में हैं। ग्राम सभा एवं अन्य विभागों द्वारा बनायी गयी सुरक्षा दीवारें सौर उर्जा आदि सब बाढ की चपेट में आ गये हैं, वहीं धान के खेत, मछली के तालाब सब बह गये हैं। दिवोगी के मरोड़ा में भी काफी नुकसान होने की सूचना है।वहीं तालघाटी के ग्राम मल्ला बनास के राजस्व ग्राम ताल शहजादा में रणबीर सिंह बिष्ट और भारत सिंह बिष्ट की गोशाला भी खतरे की जद में है। ताल खैराणा में सम्पर्क मार्ग कट गया है, साथ ही बुंकण्डी ग्राम सभा में भी काफी नुकसान होने की आशंका बताया जा रहा है। सूत्रों के हवाले खबर के अनुसार बिदासनी में दो वाहनों के बहने की सूचना है, एवं कई लोगों के मकान व खेत खतरे की जद में हैं।

architect-ad


यमकेश्वर शतरूद्रा घाटी में भी बरसात के कारण काफी नुकसान हो गया है। चाय दमराडा निवासी, विनोद डबराल का मछली तालाब और अन्य नुकसान हो गया है, साथ ही शीला गॉव में भी नदी के किनारे मकान के पास नदी उफान पर है।ं नीलकंठ के पास मराल तलाई में भी बादल फटने से काफी नुकसान होने की खबर है, घर के पास काफी कटान होने से मकान खतरे की निशानी पर है। साथ ही ग्राम सभा पंबा के पनियाली क्षेत्र में मकान के ऊपर मलवा आने से काफी नुकसान हो गया है।

ad12

ग्राम पंचायत घाईखाल के ढिकेड़ा, सिगड्डी में भारी नुकसान हो गया है, वहॉ मवेशियों की बहने की खबर मिली है। सिगड्डी निवासी रमेश सिंह की गौशाला बह गयी है। स्थानीय निवासियों ने अपने पशुओं के साथ गॉव से बाहर उॅचाई वाले स्थान पर रात बिताई। वहीं जूनियर हाई स्कूल सिगड्डी का प्रागण टूट गया है।तालघाटी व अन्य क्षेत्र में सभी सम्पर्क मार्ग कटने से काफी समस्या हो रही है, साथ ही बिजली नहीं होने के कारण अधिकांश के फोन बंद मिल रहे हैं, जिस कारण सूचना पूरी तरह से नहीं मिल पायी है। अभी तक हुए नुकसान का जायजा लिया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.