advertisement

बच्चों के हुनर को संवारने का प्रशिक्षण| जयमल चंद्रा की रिपोर्ट

Share this news

सिटी लाइव टुडे, जयमल चंद्रा, द्वारीखाल


बच्चे देश का भविष्य है। लिहाजा, बच्चों को होनहार व जिम्मेदार बनाना हम सबका दायित्व है। इसी को साकार करने के लिये द्वारीखाल विकासखंड में बच्चों के हुनर को तलाशने व तलाशने का प्रशिक्षण चल रहा है। दरअसल, विकास खंड द्वारीखाल में संकुल स्तरीय विद्यालय प्रबंध समिति व विद्यालय विकास प्रबंध समिति के तीन दिवसीय प्रशिक्षण की शुरुआत संकुल मुख्यालयों में आरम्भ हुई।

सुराड़ी संकुल के अटल उत्कृष्ट राजकीय इंटर कॉलेज चेलूसैंण में भी सीआरसी श्रीमती बीना बहुगुणा ने दीप प्रज्ज्वलित कर व प्रधानाचार्य श्री देवेन्द्र कुमार रावत द्वारा शिक्षा की देवी सरस्वती की फोटो पर मालार्पण विधिवत प्रशिक्षण का सुभारम्भ किया। प्रधानाचार्य द्वारा अपने उद्धघाटन सम्बोधन में छात्र-छात्राओं के सर्वांगीण विकास में प्रबन्धन समिति के महत्व पर प्रकाश डाला। सीआर सी बीना बहुगुणा द्वारा बच्चो में नैतिक, सामाजिक विकास के लिए अभिभावकों व अध्यापकांे के सामंजस्य पर जोर दिया।

architect-ad

ad12

प्रशिक्षक श्री उर्मिल काला सौम्यता के साथ उत्कृष्ट व दक्षतापूर्वक प्रशिक्षण दे रहे है। राजकीय आदर्श प्रार्थमिक विद्यालय बमोली के प्रबन्धक समिति के अध्यक्ष जयमल चन्द्रा ने अभिभावकों से अपील की कि अपने बच्चों के उज्ज्वल भविष्य के लिए उनको अध्यापकों का सहयोग करना चाहिए व हर प्रकार की गतिविधियों में प्रतिभाग करना चाहिए। प्रशिक्षण में श्रीमती मंजू जैकब, रघुबीर सिंह राणा,दिनेश कुमार,अध्यापक व प्रबंधक समितियों के सदस्य प्रतिभाग कर रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.