tanejav1

स्तन कैंसर के कारण, लक्षण् व बचाव की उपयोगी जानकारी साझा की | नेहा सक्सैना की रिपोर्ट

adhirajv2

Share this news

सिटी लाइव टुडे, नेहा सक्सैना

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में कॉलेज ऑफ नर्सिंग की ओर से स्तन कैंसर जनजागरुकता माह के तहत कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें विशेषज्ञ चिकित्सकों व नर्सिंग फैकल्टी द्वारा महिलाओं को स्व स्तन परीक्षण के तौर तरीके बताए और प्रतिभागियों से इसका प्रयोग भी कराया गया। साथ ही स्तन कैंसर संबंधी स्वास्थ्य शिक्षा भी दी गई।

advertisment

गौरतलब है कि अक्टूबर माह को स्तन कैंसर जागरुकता माह के तौर पर मनाया जाता है। जिसके तहत बुधवार को एम्स के कॉलेज ऑफ नर्सिंग के तत्वावधान में गायनी ओपीडी में स्तन कैंसर जनजागरुकता कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें मरीजों व उनके तीमारदारों को विशेषज्ञों ने स्तन कैंसर के कारण, लक्षण, बचाव व स्व परीक्षण करने की विस्तृत जानकारी दी। इस अवसर पर गायनी विभागाध्यक्ष डा. जया चतुर्वेदी ने बताया कि किस तरह से स्तन कैंसर लगातार महिलाओं में बढ़ रहा है। साथ ही उन्होंने बताया कि स्तन कैंसर के वार्निंग साइन को महिलाएं नजरअंदाज कर देती हैं जिससे वह स्तन कैंसर से ग्रसित हो जाती है, यदि महिलाएं स्तन कैंसर होने के संकेतों पर गौर करें तो वह इस घातक बीमारी से ग्रसित होने से बच सकती हैं।

डा. जया ने बताया कि स्तन कैंसर को शुरुआती दौर में ही पहचान कर सही समय पर उपचार शुरू किया जा सकता है। गायनी विभाग की ब्रेस्ट कैंसर सर्जन डा. शालिनी राजाराम ने बताया कि देश व दुनिया में स्तन कैंसर से जुड़े आंकड़े प्रस्तुत किए। उन्होंने स्तन कैंसर के खतरे को किस तरह से कुछ हद तक कम किया जा सकता है इस बाबत महिलाओं को जागरुक किया। एमएससी नर्सिंग प्रथम वर्ष की छात्राओं मंजीत, ज्योति, मीनू, वंदना, दीक्षा, प्रेरणा, कीर्ति व प्रीति ने स्तन कैंसर विषय पर प्रतिभागियों को स्वास्थ्य शिक्षा दी।

ads

इस दौरान छात्राओं द्वारा स्वयं स्तन परीक्षण का प्रदर्शन भी किया। इसके साथ ही कार्यक्रम में मौजूद महिलाओं के महिला प्रतिभागियों को अलग अलग समूह बनाकर स्वस्तन परीक्षण भी दिया गया। स्तन कैंसर जनजागरुकता कार्यक्रम के आयोजन में नर्सिंग महाविद्यालय की सहायक प्रोफेसर डा. राजाराजेश्वरी, डा. प्रसूना जैली,डा. लतिका चावला, नर्सिंग ट्यूटर मीनाक्षी ने सहयोग प्रदान किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *