tanejav1

और बड़ा हुआ हिंदू रक्षा सेना का आकार | कार्यकारिणी का विस्तार | RAHUL SINGH की रिपोर्ट

adhirajv2

Share this news

सिटी लाइव टुडे, राहुल सिंह


हिंदू रक्षा सेना की प्रदेश कार्यकारिणी का विस्तार श्यामपुर कांगड़ी स्थित बाबा वीरभद्र सेवा आश्रम ट्रस्ट में किया गया। जिसमें हिंदू रक्षा सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष महामंडलेश्वर स्वामी प्रबोधानंद गिरि महाराज की अध्यक्षता में जूना अखाड़े के महामंडलेश्वर स्वामी गर्व गिरी महाराज फरसे वाले बाबा को हरिद्वार जिला प्रभारी बनाया गया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए स्वामी प्रबोधानंद गिरि महाराज ने कहा कि हिंदू रक्षा सेना हिंदू हितों की रक्षा के लिए संकल्पबद्ध है।

advertisment


हिंदू रक्षा सेना के प्रदेश मीडिया प्रभारी अंश मल्होत्रा ने मीडिया को जानकारी देेते हुये उक्त जानकारी दी। साध्वी योगी श्रद्धा नाथ ने कहा कि हिंदू रक्षा सेना हिंदू हितों के लिए अनेक वर्षो से कार्य कर रही है। हिंदू समाज को संगठित होकर अपनी एकता को बढ़ाना चाहिए और आम जनमानस के हितों में योगदान प्रदान करना चाहिए। नवनियुक्त हरिद्वार प्रभारी महामंडलेश्वर स्वामी गर्व गिरी महाराज ने कहा कि हिंदुओं को संगठित कर हिंदू हितों के लिए कार्य करना हिंदू रक्षा सेना का मुख्य उद्देश्य है। अधिक से अधिक युवाओं एवं संतों को हिंदू रक्षा सेना में सम्मिलित किया जा रहा है। युवा पीढ़ी को धार्मिक रीति-रिवाजों एवं धर्म एवं संस्कृति से अवगत कराने के लिए प्रत्येक पदाधिकारी को आज अपना योगदान देने की आवश्यकता है। संत समाज सनातन संस्कृति के प्रचार प्रसार में हमेशा ही अग्रणी भूमिका निभाता चला रहा है।

ads

उन्होंने कहा कि संत महापुरुषों के सानिध्य में हिंदू रक्षा सेना को और अधिक मजबूत किया जाएगा और हिंदू समाज के हितों की लड़ाई लड़ी जाएगी। स्वामी कृष्णानंद गिरी महाराज ने कहा कि हिंदू रक्षा सेना एक गैर राजनीतिक संगठन है। जो हिंदुओं की समस्याओं को समझ कर उनका निवारण करता है। हिंदुओं के सम्मान की लड़ाई हर स्तर पर लड़ी जाएगी। किसी का भी अहित नहीं होने दिया जाएगा। इस दौरान ग्रामीण विधानसभा अध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद जोशी, कोषाध्यक्ष प्रदीप कुकरेती, उपाध्यक्ष सोहन सिंह सोनू, महामंत्री श्रवण कुमार, महामंत्री हीरा बल्लभ पंत, उपाध्यक्ष सुरेश कुमार, यशपाल चैधरी, राजेश कश्यप, दीपक कुमार, बबली अग्रवाल, जगदीश प्रसाद, लाखन सिंह, सतवीर सिंह, अभिषेक उपाध्याय आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *