advertisement

गैंडीखाता| त्रिकोणीय मुकाबले के आसार और ” श्रुति लखेड़ा “| click कर पढ़िये पूरी खबर

Share this news

सिटी लाइव टुडे, चुनावी डेस्क


पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वामी यतीश्वरानंद व वर्तमान विधायक अनुपमा रावत की प्रतिष्ठा का सवाल बनी गैंडीखाता जिला पंचायत की सीट पर सधे हुये अंदाज में फील्डिंग सजायी श्रुति लखेड़ा पर सबकी नजर लगी हुयी है। त्रिकोणीय मुकाबले की पटकथा लिखती गैंडीखाता जिला पंचायत की सीट पर श्रुति की सियासी ताकत का समीकरणों पर पड़ने वाले असर ने भाजपा व कांग्रेस दोनों को टेंशन दे दी है। प्रचार तंत्र को प्रचंड करती श्रुति ने भी अब खुलकर मोर्चा खोल दिया है। जनसंपर्क अभियान की धार पैनी करती हुयी श्रुति सभी वर्गों व समुदायों के बीच जाकर विकास की खातिर की वोट की अपील कर रही है।

चुनावी कार्यालय का उद्घाटन और शक्ति प्रदर्शन करती रैली के बाद अब श्रुति ने गैंडीखाता फतह को पूरी ताकत झोंक दी है। गैंडीखाता सीट पर श्रुति की चुनावी ताल ने भाजपा व कांग्रेस दोनों को जोर का झटका धीरे से दिया है। गैंडीखाता जिला पंचायत की सीट पर यह चुनाव कई मायनों खास है। यह चुनाव पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वामी यतीश्वरानंद और वर्तमान विधायक अनुपमा रावत की प्रतिष्ठा से भी जुड़ गया है।
इस चुनावी समर में समाज सेविका की पहचान रखने वाली श्रुति लखेड़ा की दमदार चुनावी ताल ठोकने और उसके बाद उपजे समीकरण भी बेहद खास बनते जा रहे हैं।

architect-ad

महिला वोटरों पर श्रुति सेंध लगाती दिख रही है। इस बात से भी इंकार नहीं किया जा सकता है कि युवा शक्ति भी श्रुति के पाले में जा सकती है। आदिवासियों के लिये किये गये श्रुति के कार्य भी समीकरणों पर असर डालने में सक्षम हैं। क्षेत्र में श्रुति की सक्रियता व सेवाभाव से किये कार्य भी समीकरणों को बिगाड़ व बना सकते हैं।

ad12

बीते दिनों क्षेत्र में निकाली गयी रैेली ने भी श्रुति के सियासी कद व ताकत का अहसास करा दिया है। बहरहाल, श्रुति लखेड़ा ने अपने प्रचार तंत्र को तेज करते हुये जनसंपर्क अभियान को तेज कर दिया है। श्रुति क्षेत्र के सभी वर्गों व समुदायों के लोगों से मुलाकात कर रही है। उन्होंने विकास के नाम पर वोट की अपील की। बहरहाल, आने वाले दिन सियासत के लिहाज से बेहद ही खास हैं। देखते हैं क्या नये समीकरण बनते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.