advertisement

अंजू देवी का promise| मीठी बेरी के बंद किस्मत के ताले खोलेंगे| अनिल शर्मा की रिपोर्ट

Share this news

सिटी लाइव टुडे, अनिल शर्मा, लालढांग


लालढांग न्याय पंचायत की रसूलपुर मीठी बेरी ग्राम पंचायत की प्रधानी की खातिर नेतानगरी एक्शन मोड में हैं। इस सीट पर नारी शक्ति का प्रतिनिधित्व करने वाली अंजू देवी ने अन्य प्रत्याशियों का पसीना निकाल रखा है। अंजू देवी के प्रधानी पद पर ताल ठोकने के बाद अब समीकरण बदले-बदले हुये हैं। कमलेश द्विवेदी पहले ही इस सीट पर ताल ठोक चुके हैं लेकिन अंजू देवी की एंट्री के बाद ग्रामीणों का मूड कुछ और लग रहा है। अंजू की दमदार एंट्री व अब शानदार रणनीति ने अन्य को टेंशन दे दी है। अंजू देवी ने वादा किया है कि ग्राम पंचायत के बंद किस्मत के ताले खोलेंगे, एक बार मौका दो।

अंजू देवी ने वादा किया है कि ग्राम पंचायत के बंद किस्मत के ताले खोलेंगे, एक बार मौका दो।

architect-ad


अंजू देवी सीधेतौर पर ग्रामीणों के बीच हैं। चुनाव से पहले भी अंजू की सामाजिक कार्यों में सहभागिता बनी रही है। उनके पतिश्री नरेश कुमार शर्मा का अपना वजूद और लोकप्रियता उनकी ताकत मेें इजाफा करता है। बुधवार को अंजू देवी व उनके समर्थक ग्रामीणों के बीच रहे। इस ग्राम पंचायत के ग्रामीण विकास की राह टटोल रहे हैं। मूलभूत सुविधायें गांव में चाहते हैं और ग्रामीण की इस कसौटी पर अंजू फिट बैठ सकती है। ग्रामीण उन पर भरोसा भी कर सकते हैं। वजह, नारी शक्ति का होना भी है और जीरो टॉलरेंस का वादा भी।

अंजू देवी ने वादा किया है कि ग्राम पंचायत के बंद किस्मत के ताले खोलेंगे, एक बार मौका दो।

ad12

अंजू देवी ने ग्रामीण के बीच जाकर बताया कि गांव की तकदीर व तस्वीर बदली जायेगी। हर किसी की समस्याओं का प्राथमिकता के साथ निदान होगा। जनकल्याणकारी योजनाओं को लेकर जनता के बीच आयेंगे। जो अब तक नहीं हुआ, वो करेंगे, करके दिखायेंगे।
कुल मिलाकर कौन जितेगा और कौन हारेगा यह तो चुनाव परिणाम ही तय करेंगे। लेकिन अंजू देवी की दमदार एंट्री और अब शानदार रणनीति ने अन्य प्रत्याशियों को बड़ी टेंशन दे दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.