advertisement

जल संरक्षण को फिर आगे आया एक गांव| किया कुछ खास| जगमोहन डांगी की रिपोर्ट

Share this news

सिटी लाइव टुडे, जगमोहन डांगी, पौड़ी


पौडी के स्वच्छता एवं सामाजिक सहभागिता के लिए प्रसिद्ध डांगी डांगी हमेशा ही सुर्खियों में रहता है। सड़क हो या पानी की किल्लत स्वयं ही संसधानों से गांवों को निर्भर बनवाया। जल संरक्षण को एक बार फिर ऐसा काम हुआ है कि फिर वाह डांगी, वाह और डांगी, डांगी हुआ है। जल संरक्षण की हिफाजत को पुख्ता इंतजाम हुआ है। दरअसल, डांगी एक गांव का नाम है। इस गांव ने एक बार फिर आमजन को सार्थक व बड़ा संदेश दिया है। यह गांव सिस्टम व मशीनरी को भी आईना दिखा रहा है।


जनपद पौड़ी के विकास खण्ड कल्जीखाल के ग्राम डांगी में आज भी 50 परिवार रहते हंै। हालांकि, परिवार सदस्यों की संख्या बहुत कम है। सामाजिक कार्यों हमेशा एकजुट रहते हंै। बढ़ती गर्मी और नियमित बारिश न होने पर डांगी के ग्रामीणों ने आज निर्धारित दिवस पर प्राकृतिक जल स्रोतों को रख रखाव कर स्रोतों अंदर सफेद मिट्टी का लेप किया, जिसे स्थानीय भाषा में कमेड़ा भी बोलते है। इसके लेप से पानी का रसाव कम हो जाता औऱ स्रोतों की मात्रा बढ़ जाती है। हालांकि गांव गांव हर घर नल हर घर जल जल जीवन मिशन योजना के तहत बेशक नल बिछे हो लेकिन ग्रामीण प्राकृतिक स्रोतों पर भी निर्भर हंै।

architect-ad

ad12

निर्धारित दिवस पर महिलाओं ने सामाजिक कार्यकर्ता एवं जल प्रहरी जगमोहन डांगी ने नेतृत्व में आज स्वच्छता अभियान एवं प्राकृतिक जल स्रोतों का सवंर्धन एवं सरंक्षक के लिए हमेशा सहयोग करने की संकल्प लिया। इस अवसर पर ग्राम प्रधान भगवान सिंह चैाहान, पूर्व सैनिक शिशुपाल सिंह चैाहान, शिक्षक धीरज सिंह चैाहान, युवा मंगल दल अंकित नेगी एवं आशीष चैाहान वहीं महिलाओ में कांता देवी,शुशीला देवी ,सर्वेशरी देवी पुष्पा देवी,अनुसूइया देवी दमयंती देवी रेखा देवी अंजली एवं वृंदा रावत आदि सहित दो दर्जन महिलाओ ने इस स्वच्छता अभियान में भाग लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.