advertisement

uttrakhand| इन गांवों में खेत सरसों से पीले, तो छतें ध्वजों से भगवा|वरिष्ठ पत्रकार-अजय रावत

Share this news
 सिटी लाइव टुडे, वरिष्ठ पत्रकार-अजय रावत 

श्रीनगर विस् के तहत आने वाले खिर्सू विकास खण्ड के तहत सुमाड़ी-बुघानी-देवलगढ़ मोटर मार्ग से गुजरते हुए मरखोला, कोठगि या भैंसकोट जैसे गांवों से गुज़रे तो खेतों को देख मन प्रसन्न हो गया। इन गांवों में अपेक्षाकृत रूप से गांव के आसपास के खेत आबाद नज़र आये। पीली सरसों से सरसब्ज़ खेत वसंत का मनमोहक अहसास भी दिला गए, जो अब पहाड़ों में कम ही नज़र आता है। 


 सियासत की बात करें तो मतदाताओं खामोशी बरकरार थी। यूकेडी के मोहन काला के गांव सुमाड़ी आदि में स्वाभाविक झुकाव साफ नजर आया। लेकिन आगे आगे गांवों में बढ़े तो पीली सरसों के खेतों के बीच अधिकांश घरों की छतें भगवा ध्वज फहराए हुए थीं, कतिपय घरों पर पंजा छाप तिरंगा भी शान से लहरा रहा था। हालांकि ध्वजारोहण वोट में तब्दील होता हो, आज के दौर मेँ यह कह पाना भी जल्दबाजी होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.