advertisement

यहां तिल-तिल घटता व बढ़ता है शिवलिंग | जानिये कहां | नेहा सक्सैना की रिपोर्ट

Share this news

सिटी लाइव टुडे, नेहा सक्सैना

मठ-मंदिरों की थाह लेना आसान नहीं है इनको समझने का कितना प्रयास करोगे उतने ही उलझते जाओगे। आस्था का तो केवल और केवल दिव्य अहसास ही किया जा सकता है। एक ऐसा ही मंदिर हरिद्वार में भी है। खास बात यह है कि मंदिर में प्रतिष्ठित दिव्य शिवलिंग का आकार स्वयं ही बदलता रहता है। संपूर्ण शिवलिंग के दर्शन माह में एक ही बार होते हैं। आइये जानते हैं इस मंदिर के बारे में।

भगवान भोलेनाथ की ससुराल हरिद्वार के कनखल में तिल भांडेश्वर महादेव मंदिर है। मंदिर के बारे में मान्यता है कि यहां एक माह तक जल में तिल डालकर जलाभिषेक किया जाये तो समस्त दुखों का तिल-तिल शमन हो जाता है।

architect-ad

ad12

तिल भांडेश्वर महादेव मंदिर की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि यहां प्रतिष्ठित दिव्य शिवलिंग तिल-तिल घटता और बढ़ता है। ऐसी मान्यता है कि कृष्ण पक्ष में यह दिव्य शिवलिंग घटता रहता है। इसी प्रकार के शुक्लपक्ष मंे यह दिव्य शिवलिंग तिल-तिल बढ़ता रहता है। प्रत्येक माह की पूर्णिमा को यह दिव्य शिवलिंग पूर्ण आकार में होता है। इस मंदिर के दर्शन को सालभर श्रद्धालु आते रहते हैं। सावन माह में तो बड़ी संख्या में श्रद्धालु यहां पहुंचकर पूजा-अर्चना करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.