advertisement

ठंडी बयार चलते आने लगा ” रहस्यमयी “| जयमल चंद्रा की रिपोर्ट

Share this news

सिटी लाइव टुडे, मीडिया हाउस


मौसम ठंडा-ठंडा कूल-कूल हो गया है इससे गर्मी से राहत मिली है। लेकिन यहां के ग्रामीणों को ठंडी बयार के साथ ही दिक्कतें होने लगी हैं। ठंडी बयार चलने से ग्रामीणों ने राहत की सांस क्या ली कि रहस्यमयी ने ग्रामीणों के सुकून को भंग कर दिया। दरअसल, इस रहस्यमयी और ठंड का गहरा संबंध है।


अब आपको पहले रहस्यमयी के बारे में ही बता देते हैं। जनपद पौड़ी के द्वारीखाल क्षेत्र से जुड़ा है इस रहस्यमयी का नाता। दरअसल, द्वारीखाल क्षेत्र में मवेशियों को कोई जंगली जानवर निवाला बना लेता है। यह जानवर क्या है आज तक इसका पता नहीं चल पाया है। कोई भी इस रहस्यमयी जानवर को देख नहीं पाया है। इसको रहस्यमयी के नाम से जाना जाता है।

architect-ad

ad12

खास बात यह है कि सर्दियों में यह रहस्यमयी सक्रिय हो जाता है और गर्मी आते ही रहस्यमयी गायब हो जाता है। इसका क्या कारण है यह तो भगवान ही जाने। गर्मी के चलते रहस्यमी गायब ही था लेकिन इस बीच बीते दिनों मौसम ने करवट ली तो ठंडी बयार चलने लगी है। ठंड का अहसास होते ही रहस्यमयी फिर आने लगा है। बताया जा रहा है कि द्वारीखाल क्षेत्र में रहस्यमी फिर सक्रिय हो गया है। ऐेसे में ठंडी बयार चलने राहत तो जरूर मिली है लेकिन रहस्यमयी ने राहत में भी आफत कर दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.