advertisment

दिल्ली में बतायी हरिद्वार के उद्योगों की दिक्कतें| विकास श्रीवास्तव की रिपोर्ट

Share this news

सिटी लाइव टुडे, विकास श्रीवास्तव


हरिद्वार में औद्योगिक विकास की रफ्तार धीरे-धीरे थम सी गयी है। राज्य गठन के बाद औद्योगिक विकास तेजी से हुआ था लेकिन धीरे-धीरे में गिरावट दर्ज होने लगी है। सवाल यह उठता है कि आखिर क्यों हो रहा है। उद्योगों से जुड़े लोगों ने उद्योगों के संचालन में हो रही दिक्कतों को दिल्ली में सुनाया और समस्याओं के निराकरण की गुहार लगायी।


दरअसल, हरिद्वार जनपद में कार्यरत ओद्यौगिक सिडकुल इंटरप्रूनेर वेलफेयर एसोसिएशन (सेवा), रूडकी स्माल स्केल इंडस्ट्रियल एसोसिएशन, रुड़की,बहादराबाद इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट वेलफेयर एसोसिएशन एवं भगवानपुर इंडस्ट्रियल एसोसिएशन के प्रतिनिधियों ने भारत सरकार सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय द्वारा आजादी का अमृत महोत्सव के अंतर्गत उद्योगों को आ रही समस्याओं और उनके सुझावो पर चर्चा के लिए माननीय केंद्रीय मंत्री सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय भारत सरकार नारायण राणे की अध्यक्षता में एक कार्यक्रम का आयोजन विज्ञान भवन नई दिल्ली में किया। जिसमें देश भर से जुड़े औद्योगिक संगठनों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया।

advertisment4

ad12

इस कार्यक्रम ने हरिद्वार जनपद में कार्यरत सभी औद्योगिक संगठनों से जुड़े प्रतिनिधयों ने वर्तमान समय मे उद्योगों को आ रही समस्याओं में मंत्री को अवगत कराया। सब्सिडी प्राप्त करने, टेसिं्टग और नए उत्पाद विकसित करने , उद्यमी की वित्तीय और स्वास्थ्य सुरक्षा की समस्या और भारत सरकार से समस्याओं के समाधान में सहयोग के लिए निवेदन किया। इस अवसर पर सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय भारत सरकार उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार द्वारा आरम्भ एंटरप्राइज इंडिया का भी शुभारंभ किया। औद्योगिक संगठनों से जुड़े प्रतिनिधियों इस अवसर पर माननीय केंद्रीय मंत्री को सभी संगठनों की और से स्मृति चिन्ह भेंट किया। इस बैठक में उद्योग प्रतिनिधियों के रूप में हिमेश कपूर, साधुराम सैनी, केतन भारद्धाज, लावण्य सिंघल, प्रवीण गर्ग, शिवम गोयल, पंकज उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.