advertisement

uttrakhand| CM की कुर्सी और भूत बंगला| पढ़िये पूरी खबर

Share this news

सिटी लाइव टुडे, मीडिया हाउस


अपने उत्तराखंड में सीएम आवास सुर्खियों में बना रहता है। सीएम आवास को लेकर मिथक है कि जो भी मुख्यमंत्री सीएम आवास में रहता है वह अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर पाता है। जब भी उत्तराखंड की सिसासत में सीएम की कुर्सी का जिक्र आता है इसके साथ ही रहस्यमयी भूत बंगले का नाम भी अपने आप भी जुड़ जाता है। खबर के साथ अब रहस्यमयी भूत बंगले के इतिहास पर नजर डालना भी जरूरी हो जाता है तो आइये थोड़ा इसके इतिहास पर नजर डालते हैं।


दरअसल, इस मुख्यमंत्री आवास से कई सारे मिथक जुड़े हैं। कई लोग मानते हैं कि जो भी मुख्यमंत्री यहां आकर रहता है वह अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर पाता है। इस मुख्यमंत्री आवास में वास्तु दोष माने जाते हैं। इस मुख्यमंत्री आवास को लेकर चर्चा तब हुई जब पूर्व मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक और विजय बहुगुणा को उनके कार्यकाल से पहले ही हटा दिया गया। वहीं पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत इसी वजह से इस मुख्यमंत्री आवास में शिफ्ट नहीं हुए थे और वह स्टेट गेस्ट हाउस में रहने लगे। साल 2017 में जब भाजपा सरकार सत्ता में आई तो पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत 10 एकड़ में फैले इस बंगले में शिफ्ट हुए। शिफ्ट होने से पहले पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने यहां पूजा पाठ करवाया था लेकिन फिर भी उन्हें मुख्यमंत्री पद से हटा दिया गया।

ad12

architect-ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.