tanejav1

ठुमका लगवाने आ गयी ‘ बिंदी ‘ बौ | तिलै धारू बोला | जयमल सिंह रावत के गीत पर जयमल चंद्रा की रिपोर्ट

adhirajv2

Share this news

 उभरते हुये गायक जयमल सिंह रावत का नया गीत 

डीजे गीत है बिंदी बौ, लोक गायन का भी है समावेश 

advertisment

सिटी लाइव टुडे, द्वारीखाल-प्रस्तुति-जयमल चंद्रा 

उभरते गायक जयमल सिंह रावत का नया गीत थिरकने को मजबूर कर रहा है। हाल में ही टू-यूब पर लांच किया गया बिंदी बौ गीत खासा पसंद किया जा रहा है। पौणों की पिठाई बल तिलै धारू, बिंदी बौ की हिटाई, बल तिलै धारू बोला। 


जनपद पौड़ी के द्वारीखाल ब्लाक के चैलूसैंण निवासी जयमल सिंह रावत गीत रचना व गायक करते हैं। रोजगार की खातिर जयमल सिंह रावत दिल्ली में रहते हैं। लेकिन उनका दिल दिल्ली मंे नहीं बल्कि पहाड़ में ही रहता है। लोक-संगीत व लोक-संस्कृति के लिये लगातार काम करना उनकी जिंदगी का हिस्सा ही बन चुका है। पहले उन्होंने सीमा छौरी गीत लांच किया गया और अब बिंदी बौ। दोनों ही गीत खासे पसंद किये जा रहे हैं। देखा जाये तो बिंदी बौ डीजे गीत है और इस गीत में डांस करने का भरपूर मसाला है। जयमल सिंह रावत की सुरीली आवाज से सजा यह गीत लोक गायन को भी स्पर्श करता है।

जिसमें शब्दों के जरिये सुंदरता का वर्णन किया गया है। शब्द चयन और गायन पक्ष बेहद उम्दा है। मुखडे के बाद आंत्रा में पुट या पट में लोक गायन का ठेठ स्वरूप सुनने को मिलता है। जयमल सिंह रावत बताते हैं कि यह गीत डीजे है और लोक के आसपास गीत को केंद्रित रखा गया है।

ads

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *